व्रत रखने के फायदे और नुकसान – Fasting Benefits and Side Effects in Hindi

1
475

आपने कभी न कभी fast तो जरूर रखा होगा, लेकिन क्या आप fast का वैज्ञानिक महत्व जानते हैं? क्या आप जानते हैं कि fast किस प्रकार आपके health को लाभ पहुंचाता है? India में fast धर्म और आस्था से जुड़ा है, लेकिन धार्मिक महत्व से अलग fast के फायदे स्वास्थ्य से भी जुड़े हैं। हमारे इस post में जानिए health के लिए fast रखने के फायदे क्या-क्या हैं। साथ ही इस post में fast कुछ नुकसान से भी आपको अवगत कराएंगे।

व्रत क्‍या है? – What is Fasting in Hindi

सबसे पहले जानते हैं कि fast क्या है? अगर बात करें fast की परिभाषा, तो यह हर व्यक्ति के अनुसार अलग-अलग हो सकती है। आमतौर पर fast के दौरान व्यक्ति किसी निर्धारित समय के लिए पूर्णतया या कुछ खास भोजन व पेय आदि का त्याग करता है। कभी-कभी व्यक्ति fast के दौरान पानी, फल या सिर्फ जूस ही लेते हैं। Fast की अवधि एक दिन, एक week या इससे अधिक भी हो सकती है। जैसा कि हमने ऊपर बताया कि fast न सिर्फ श्रद्धा और भक्ति से जुड़ा होता है, बल्कि इसके health benefits भी कई हैं, जिनके बारे में हम post के आगे के भाग में जानकारी देंगे।

इससे पहले कि आप health के लिए fast रखने के फायदे जानें, उससे पहले हम fast के प्रकार के बारे में आपको जानकारी दे देते हैं।

उपवास के फायदे – Benefits of Fasting in Hindi

Fast के फायदे सिर्फ आपके घर की सुख-शांति नहीं है, बल्कि आपके health के लिए भी है। नीचे हम उसी के बारे में आपको जानकारी दे रहे हैं।

1. उपवास से शरीर को डिटॉक्सीफाई होने में मदद मिलती है ( Fasting helps the body to get detoxified ) –

कई बार बाहर का खाना या ज्यादा तेल-मसाले वाले खाद्य पदार्थों के सेवन से body में विषाक्त तत्व जमा होने लगते हैं। इससे न सिर्फ पेट संबंधी बल्कि कई अन्य परेशानियां जैसे- skin की समस्याएं भी शुरू हो जाती है। ऐसे में body से ये विषैले तत्व निकालना जरूरी होता है। इस स्थिति में अगर fast रखा जाए, जिसमें खाद्य पदार्थों के सेवन के बजाय शुद्ध पेय पदार्थों जैसे – fruit juice, लस्सी व छाछ शामिल हों, तो body को सही तरह से डिटॉक्सीफाई किया जा सकता है, जिससे skin संबंधी परेशानियों से भी राहत मिल सकती है।

2. वजन को कम करने के लिए उपवास ( Fasting to lose weight ) –

आधे से ज्यादा लोगों की समस्या मोटापा है। ऐसे में अगर वक्त रहते इस पर ध्यान न दिया गया, तो यह कई शारीरिक समस्याओं का कारण बन सकता है। वैसे weight loss करने के लिए fast अच्छा तरीका हो सकता है। इंटरमिटेंट फास्टिंग (Intermittent Fasting) आजकल काफी चलन में है। इसके बारे में हमने ऊपर विस्तार से बताया है। यह fast weight loss करने में काफी मददगार साबित हो सकता है। इस fast में थोड़े बदलाव होते हैं जैसे – इसमें लोग कुछ घंटों तक उपवास में रहते हैं, वो ठोस पदार्थों की जगह पेय पदार्थों का सेवन करते हैं। इस तरह के fast में खाने का वक्त और पैटर्न बदलता है। यह fast weight loss करने में काफी मददगार साबित हो सकता है।

3. पाचन तंत्र के लिए उपवास के फायदे ( Benefits of fasting for the digestive system ) –

ज्यादातर लोग भोजन सही से न पचने की समस्या से परेशान रहते हैं। ऐसे में fast आपके पाचन तंत्र के लिए भी लाभकारी हो सकता है। Fast से body के स्वयं के उपचार तंत्र सही से काम करना शुरू कर देते हैं, जिससे body कई तरह की परेशानियों से खुद-ब-खुद लड़ना शुरू कर देता है। एक शोध के अनुसार 62.33% लोगों को fast के दौरान अपच की समस्या नहीं हुई, वहीं 27% लोगों की अपच की परेशानी ठीक हो गई। तो अपने पाचन तंत्र को आराम देने के लिए आप fast कर सकते हैं।

4. ब्लड प्रेशर के लिए उपवास ( Benefits of fasting for the digestive system ) –

जैसे-जैसे fat की समस्या बढ़ती है, वैसे-वैसे अन्य शारीरिक परेशानियां भी होने लगती हैं और उच्च रक्तचाप उन्हीं में से एक है। Blood pressure की समस्या आजकल कई लोगों में सुनने को मिल सकती है। ऐसे में अगर वक्त रहते इस पर ध्यान नहीं दिया गया, तो यह हृदय संबंधी कई समस्याओं का कारण भी बन सकता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि fast उच्च रक्तचाप की समस्या से काफी हद तक राहत दिला सकता है। जैसा कि हमने आपको ऊपर अनिरंतर उपवास (Intermittent Fasting) के बारे में बताया, जिसमें आमतौर पर 16 घंटे का fast और 8 घंटे खाने की सलाह दी जाती है, काफी लाभकारी साबित हो सकता है। इस fast से कई शारीरिक समस्या से राहत मिल सकती है, जिसमें से उच्च रक्तचाप भी एक है। इस fast को सही तरीके से करने से उच्च रक्तचाप की समस्या काफी हद तक कम हो सकती है और व्यक्ति का blood pressure नियंत्रित हो सकता है।

5. कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए उपवास ( Fasting to lower cholesterol ) –

जैसा कि हमने ऊपर आपको जानकारी दी कि आजकल लोगों में अनिरंतर उपवास (Intermittent Fasting) का चलन है। इस fast से लोगों को weight loss करने में काफी मदद मिल रही है। अब जब मोटापा या वजन कम होगा, तो कई बीमारियों का खतरा भी कम हो सकता है। ऐसे में कोलेस्ट्रॉल भी कई बार चिंता का कारण बन जाता है। इसके बढ़ने से हृदय संबंधी परेशानियां एवं अन्य health संबंधी समस्याएं भी हो सकती है। ऐसे में fast करने से टोटल कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित किया जा सकता है। Fast के दौरान एचडीएल (HDL) यानी अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा में बढ़ोतरी हो सकती है। हालांकि, इस पर अभी और शोध की आवश्यकता है, लेकिन हम यह मान सकते हैं कि कम से कम fast से हानिकारक कोलेस्ट्रॉल यानी एलडीएल (LDL) को थोड़ा-बहुत कम करने में मदद मिल सकती है ।

6. त्वचा के लिए उपवास ( Fasting for the skin ) –

कई बार सिर्फ cream और cosmetic का ही नहीं, बल्कि खान-पान का असर भी skin पर होने लगता है। ज्यादा तेल-मसाले या बाहरी खाने के सेवन का असर skin व face पर दिखने लगता है, नतीजा कील-मुंहासे और दाग-धब्बे। ऐसे में fast काफी लाभकारी हो सकता है। हमने ऊपर आपको पहले ही बता दिया है कि fast रखने से body को डिटॉक्सीफाई होने में मदद मिल सकती है। जब body डिटॉक्सीफाई होगा, तो body में मौजूद विषाक्त तत्व बाहर निकलेंगे, जिससे skin में नई चमक आएगी और skin खूबसूरत दिखने लगेगी। इसके साथ-साथ fast के दौरान फलों और शुद्ध-प्राकृतिक पेय पदार्थों का सेवन skin health में लाभदायक भूमिका निभा सकते हैं।

7. मानसिक और भावनात्मक लाभ के लिए उपवास ( Fasting for mental and emotional benefits ) –

Fast का असर सिर्फ शारीरिक स्वास्थ्य पर ही नहीं, बल्कि मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य पर भी पड़ता है। Fast करने से एकाग्रता में सुधार होता है, किसी भी काम में ध्यान केंद्रित करने में मदद मिलती है, चिंता-तनाव और अनिद्रा जैसी समस्या दूर हो सकती है।

अब जब fast के बारे में इतनी चीजें आप जान गए हैं, तो अब वक्त आता है यह जानने का कि fast में किन चीजों का सेवन किया जा सकता है। हम नीचे विस्तार से इस बारे में आपको जानकारी दे रहे हैं।

उपवास में क्या खाना चाहिए – What to eat during Fasting in Hindi

अगर बात करें खाने की, तो यह इस पर निर्भर करता है कि व्यक्ति किस प्रकार का fast कर रहा है। हम नीचे कुछ खाद्य पदार्थों के बारे में बता रहे हैं, जिसका सेवन fast के दौरान किया जा सकता है। इनसे आपके body को पर्याप्त पोषक तत्व मिल सकेंगे, जिससे fast के दौरान आपको किसी भी तरह की परेशानी का जोखिम कम हो सकता है।

अगर आप पहली बार fast कर रहे हैं, तो आप आंशिक उपवास से शुरुआत कर सकते हैं। इसमें एक निर्धारित वक्त तक के लिए कुछ खास तरह के खाद्य पदार्थों से दूरी बनाई रखनी होती है। इस दौरान फल, फलों के रस या हल्के-फुल्के खाद्य पदार्थों का सेवन किया जा सकता है, जैसे :

Fast के दौरान तले-भूने खाद्य पदार्थों का सेवन न करें।

Juicy fruits का सेवन करें।

Dry fruits का सेवन कर सकते हैं।

Milk का सेवन कर सकते हैं।

Fruit juice का सेवन कर सकते हैं।

अगर आप salt नहीं खा रहे हैं, तो हरी सब्जियों को बिना salt के पकाकर खा सकते हैं।

अगर आप निर्जला fast नहीं रख रहे हैं, तो milk को अपने diet में शामिल कर सकते हैं । अगर दूध नहीं पसंद, तो चाय या कॉफी का सेवन कर सकते हैं। ध्यान रहे कि अगर आपको एसिडीटी या गैस की समस्या है, तो खाली पेट tea या coffee पीने से बचें ।

नोट : ऊपर बताए गए खाद्य पदार्थ fast रखने वाले व्यक्ति के लिए विकल्प के रूप में हैं। व्यक्ति fast के प्रकार के अनुसार इन्हें बदल सकता है।

Fast रखने के फायदे और fast में क्या खाना चाहिए, इस बारे जानने के बाद अब बारी आती है उपवास में परहेज के बारे में जानने की।

उपवास के नुकसान – Side Effects of Fasting in Hindi

नीचे जानिए सही तरीके से fast न करने के नुकसान।

अगर fast के दौरान सही पौष्टिक तत्व युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करते हैं, तो आपको डिहाइड्रेशन, चक्कर व कमजोरी जैसी health problem हो सकती है।

अगर आप लंबी अवधि तक का fast करते हैं, तो आपको एनीमिया भी हो सकता है।

Fast के बाद तुरंत भारी खाने से आपको पेट संबंधी समस्या भी हो सकती है।

कुछ लोगों को भूखे रहने से चिड़चिड़ापन या गुस्सा आने की भी शिकायत हो सकती है।

ज्यादा देर भूखे रहने से सिरदर्द व body में समस्या हो सकती है। 

ऊपर fast रखने के फायदे जानने के बाद आपको इतना तो पता चल ही गया होगा कि इससे न सिर्फ मन को शांति मिलती है, बल्कि आपका health भी सुधर सकता है। यहां हम एक बात साफ कर देना चाहते हैं कि हम आपको लंबे समय तक के fast के लिए प्रोत्साहित नहीं कर रहे हैं, क्योंकि इससे लाभ के बजाय हानि भी हो सकती है। Fast के फायदे तभी मिलेंगे जब आप इसे सही तरीके से और अपने health को ध्यान में रखकर करेंगे। Fast के दौरान आप पर्याप्त मात्रा में water, juice और fruits का सेवन करें, ताकि आप fast के नुकसान से बच सकें। अगर आपको किसी प्रकार की शारीरिक समस्या है, तो doctor की सलाह के बाद ही fast करें। अगर इस विषय में आपका कोई सवाल या सुझाव है, तो नीचे comment box में हमारे साथ जरूर साझा करें। साथ ही अगर आपको भी fast या इस विषय के संबंध में कोई अनुभव या जानकारी है, तो उसे भी हमारे साथ share करें।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here